गुरूवार, जुलाई 25, 2024
होमदेश & राज्यSickle Cell रोग पर रोकथाम के लिए MP सरकार की खास मुहिम,...

Sickle Cell रोग पर रोकथाम के लिए MP सरकार की खास मुहिम, जानें लाखों मरीजों को क्या चिकित्सा सुविधा दे रहा राज्य शासन?

Date:

Related stories

MP News: मध्य प्रदेश के पुलिस विभाग में 7500 नई भर्तियां करेगी CM Mohan Yadav की सरकार, जानें कैसे युवाओं को होगा फायदा?

MP News: मध्य प्रदेश में सीएम मोहन यादव के नेतृत्व में चल रही सरकार लगातार युवाओं को रोजगार देने के लिए प्रयासरत नजर आ रही है। इसी क्रम में सूबे में रीजनल इंडस्ट्री कॉन्क्लेव का आयोजन कर निवेशकों को भी आमंत्रित किया गया है जिससे कि राज्य में भारी निवेश आ सके व रोजगार को बढ़ावा मिल सके।

MP News: किसानों के राजस्व संबंधी मामलों को झटपट निपटाएगी CM Mohan Yadav की सरकार, जानें महाभियान से कैसे होगा फायदा?

MP News: मध्य प्रदेश में सीएम मोहन यादव (CM Mohan Yadav) के नेतृत्व में चल रही सरकार लगातार किसानों के हित को देखते हुए कदम उठाती नजर आ रही है। सूबे के सीएम मोहन यादव ने इसी क्रम में किसानों की सुविधा को देखते हुए एक और बड़ी मुहिम शुरू कर दी है।

MP News: मध्य प्रदेश में NEET व Agnipath योजना का विरोध! प्रदर्शनकारी Congress कार्यकर्ताओं पर पानी की बौछार; जानें डिटेल

MP News: मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में आज सियासी गहमा-गहमी का माहौल है। दरअसल MP कांग्रेस के अध्यक्ष जीतू पटवारी के नेतृत्व में आज नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (NSUI) व कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने सरकार को जमकर घेरा है।

MP News: सिकल सेल एनीमिया जैसे गंभीर रोग को लेकर मध्य प्रदेश सरकार बेहद सजग है और इसके रोकथाम के लिए मरीजों को कई तरह की सुविधाएं दी जा रही हैं। मध्य प्रदेश सरकार का दावा है कि 2047 तक सिकल सेल (Sickle Cell) रोग को जड़ से समाप्त कर दिया जाएगा। दरअसल ये बिमारी लाल रक्त कोशिका विकारों का एक समूह है जो मानव शरीर में हीमोग्लोबिन को प्रभावित करता है जिसका असर रक्त के प्रवाह पर पड़ता है।

World Sickle Cell 2024 के अवसर पर हम आपको मध्य प्रदेश सरकार द्वारा इस बिमारी को जड़ से समाप्त करने के लिए किए जा रहे तमाम प्रयासों के बारे में बताएंगे।

MP सरकार की खास मुहिम

मध्य प्रदेश सरकार राज्य के विभिन्न हिस्सों में राजकीय अस्पतालों में सिकल रोग पर रोकथाम के लिए पूर्णत: प्रयासरत है। सीएम मोहन यादव के नेतृत्व वाली इस सरकार का लक्ष्य है कि 2047 तक सिकल सेल रोग को जड़ से समाप्त कर दिया जाएगा।

सिकल सेल रोग को जड़ से समाप्त करने के लिए राज्य सरकार लाखों मरीजों को स्क्रीनिंग एवं कन्फर्मेटरी जांच सुविधा, उपचार एवं प्रबंधन, नि:शुल्क रक्तदान, जेनेटिक काउंसलिंग कार्ड, रेगुलर फॉलोअप, मैरिज काउंसलिंग, नवजात शिशु के लिए जांच, गर्भवती महिला के गर्भ में शिशु की जांच व रोगियों को दिव्यांगता प्रमाण पत्र उपलब्ध करा कर सुविधा दे रही है। इसके अलावा राज्य सरकार की ओर से पूरे प्रदेश में जन-जागरुकता भी फैलाई जा रही है जिससे कि जल्द से जल्द इस गंभीर रोग (Sickle Cell) से निजात मिल सके।

क्या है Sickle Cell रोग?

सिकल सेल बिमारी, वंशानुगत लाल रक्त कोशिका विकारों (परिवर्तित) का एक समूह है जो मानव शरीर में हीमोग्लोबिन को प्रभावित करता है। इस दौरान लाल रक्त कोशिकाएं (Red Blood Cells) आनुवंशिक उत्परिवर्तन के कारण अर्धचंद्राकार या ‘सिकल’ आकार की हो जाती हैं जिसके कारण इसे सिकल सेल बिमारी कहा जाता है।

सिकल सेल रोग के दौरान लाल रक्त कोशिकाएं (Red Blood Cells) अपने आकार के कारण आसानी से मुड़ती या हिलती नहीं हैं और शरीर के बाकी हिस्सों में रक्त के प्रवाह को रोकती हैं। इसके कारण लोग स्ट्रोक, आंखों की समस्या व अन्य गंभीर बिमारी से ग्रसित हो सकते हैं। सिकल सेल रोग के लक्षण की बात करें तो शरीर का पीला होना, अत्याधिक थकान व जोड़ों समेत अन्य हिस्सों में दर्द व सूजन सिकल सेल रोग के गंभीर लक्षण हैं।

Gaurav Dixit
Gaurav Dixithttp://www.dnpindiahindi.in
गौरव दीक्षित पत्रकारिता जगत के उभरते हुए चेहरा हैं। उन्होनें चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय से अपनी पत्रकारिता की डिग्री प्राप्त की है। गौरव राजनीति, ऑटो और टेक संबंघी विषयों पर लिखने में रुची रखते हैं। गौरव पिछले दो वर्षों के दौरान कई प्रतिष्ठीत संस्थानों में कार्य कर चुके हैं और वर्तमान में DNP के साथ कार्यरत हैं।

Latest stories