Home देश & राज्य उत्तर प्रदेश PM Modi ने कल्कि धाम मंदिर का किया शिलान्‍यास, जानें दुनियाभर में...

PM Modi ने कल्कि धाम मंदिर का किया शिलान्‍यास, जानें दुनियाभर में क्यों खास है संभल का ये मंदिर

0
5
PM Modi
PM Modi

PM Modi: पीएम मोदी (PM Modi) सोमवार को उत्तर प्रदेश के दौरे पर हैं। यूपी के संभल में कल्कि धाम (Kalki Dham) मंदिर का शिलान्यास करने के लिए पहुंचे हैं। आपको जानकारी के लिए बता दें कि अयोध्या में राम मंदिर के उद्घाटन के बाद संभल के कल्कि धाम मंदिर की नींव रखी गई है।

PM Modi का आचार्य प्रमोद कृष्‍णम ने किया स्वागत

इस दौरान पीएम मोदी के साथ यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे। पीएम मोदी ने वैदिक मंत्रों के साथ कल्कि धाम मंदिर का भूमि पूजन किया। भूमि पूजन अनुष्ठान खत्म होने के बाद पीएम मोदी मंच पर पहुंचे तो श्री कल्कि धाम मंदिर निर्माण ट्रस्ट के अध्यक्ष आचार्य प्रमोद कृष्‍णम और स्वामी अवधेशानंद गिरी ने अंगवस्त्र ओढाकर उनका स्वागत किया।

Kalki Dham का ऐतिहासिक महत्व

आपको बता दें कि कल्कि धाम मंदिर का निर्माण संभल के एंकरा कंबोह क्षेत्र में हो रहा है। इस मंदिर को सफेद और भगवा रंग से सजाया जा रहा है। हालांकि, संभल में बन रहे इस मंदिर का अपना खास ऐतिहासिक महत्व है। चलिए जानते हैं डिटेल।

Kalki Dham कल्कि को समर्पित

कल्कि धाम मंदिर भगवान विष्णु के 10वें और आखिरी अवतार कल्कि को समर्पित है। सनातन धर्म के मुताबिक, भगवान विष्णु कलयुग के अंत में कल्कि अवतार में प्रकट होंगे। यही वजह है ये मंदिर दुनिया के बाकी सभी मंदिरों से अलग और खास महत्व रखता है। जिस अवतार के लिए मंदिर का निर्माण हो रहा है, वो अवतार अभी तक प्रकट ही नहीं हुआ है।

कल्कि धाम में एक सफेद रंग के घोड़े की मूर्ति

कल्कि धाम मंदिर में एक सफेद रंग के घोड़े की मूर्ति भी लगी है। हिंदू धर्मशास्त्रों में ऐसा कहा गया है कि कल्कि अवतार को भगवान शिव देवदत्त नाम का एक सफेद घोड़ा देंगे। इस सफेद घोड़े की मूर्ति के तीन पैर जमीन पर है, मगर चौथा पैर हवा में है। इस पर लोगों की राय है कि चौथा पैर धीरे-धीरे नीचे की ओर आ रहा है। ऐसे में ये जिस दिन जमीन पर आ जाएगा, उस कल्कि अवतार प्रकट हो जाएगा।

कल्कि धाम मंदिर में होंगे 10 गर्भगृह

कल्कि धाम मंदिर में 10 गर्भगृह होंगे। इन दसों गर्भगृहों में भगवान विष्णु के सभी 10 अवतारों को स्थापित किया जाएगा। यहां पर खास बात ये है कि इसकी सबसे बड़ी खूबी ये है कि इस मंदिर निर्माण में अयोध्या राम मंदिर के गुलाबी पत्थर को जोड़ा जाएगा। ये गुलाबी पत्थर गुजरात के सोमनाथ मंदिर में भी इस्तेमाल हुआ है। बताया जा रहा है कि इस मंदिर में भी स्टील और लोहे का उपयोग नहीं होगा। लगभग 5 एकड़ में बने इस मंदिर को बनने में 5 साल का वक्त लगेगा।

पीएम मोदी बोले- हम विकास और विरासत के मंत्र को अपनाते हुए आगे बढ़ रहे

वहीं, पीएम मोदी ने कहा कि हमने इसी दौर में महाकाल की महिमा देखी है। हमने सोमनाथ का विकास देखा है। हमने केदार घाटी का पुर्ननिर्माण देखा है। हम विकास भी और विरासत के मंत्र को अपनाते हुए आगे बढ़ रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि आज एक ओर हमारे तीर्थों का विकास हो रहा है। दूसरी तरफ शहरों में शानदार ढांचा भी तैयार हो रहा है। आज अगर मंदिर बन रहे हैं तो दूसरी तरफ नए मेडिकल कॉलेज भी तैयार हो रहे हैं।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।