मंगलवार, अप्रैल 16, 2024
होमलाइफ़स्टाइलSugar Craving in Periods: पीरियड के समय आपको भी मीठा खाने की...

Sugar Craving in Periods: पीरियड के समय आपको भी मीठा खाने की लगती है तलब? जानें कैसे करें कंट्रोल

Date:

Related stories

Sugar Craving in Periods: महिलाओं का पीरियड समय बेहद मुश्किल होता है। इस दौरान महिलओं को कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। जैसे कभी मूड का चेंज होना, कभी दर्द, कभी चिड़चिड़ापन आदि। ऐसे में महिलाओं का ये टाइम सिर्फ वो खुद ही समझ सकती है। लेकिन आपने कई महिलाओं में देखा होगा की उनके माहवारी के समय मीठा खाने का बेहद मन करता है। जिसको हम ‘स्वीट क्रेविंग’ (Sugar Craving in Periods) बोलेंगे। यह क्रेविंग कई साइकोलॉजिकल के कारण भी हो सकती है।

लेकिन यह भी सच है कि, इसके लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार हार्मोनल चेंजेस होते है। इन्ही कारणों के वजह से शरीर में कम होने वाले कार्बोहाइड्रेट्स और फैट मीठे की तलब बढ़ा देते हैं। आपको बता दें कि पीरियड्स के टाइम पर मीठे की तलब का सबसे बड़ा कारण हार्मोन सेरोटोनिन का लेवन होता है। तो ​चलिए जानते हैं कि, इस क्रेविंग के क्या महिलाओं का क्या नुकसान हो सकता है और इससे कैसे बचा जाए..

क्या होती है शुगर क्रेविंग?

माहवारी (Periods) के दौरान आपको शुगर क्रेविंग होती है। इसका जो मुख्य कारण है वह है एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन। इन दोनों हॉर्मोन्स के कारण बॉडी का शुगर लेवल कम होता है। जिससे बॉडी कॉर्टिसोल यानि स्ट्रेस हॉर्मोन के स्तर को बढ़ा देती है। इसके कारण आपका मूड खराब होता है। जिससे आपको मीठे की क्रेविंग (Sugar Craving in Periods) होती है।

कैल्श्यिम युक्त चीजों का करें सेवन

महिलाओं को महावारी (Period) के टाइम पर कैल्श्यिम का भरपूर सेवन करना चाहिए। यदि आप अपनी डाइट में कैल्श्यि को भरपूर रखते है तो यह आपके शरीर में से​रोटोनिन हार्मोन के लेवन को कंट्रोल करता है। जो मूड स्विंग के लिए जिम्मेदार होता है। कैल्श्यिम की मात्रा पूरी करनी है तो एक गिलास दूध पी सकते हैं।

प्रो​टीन युक्त भोजन का सेवन करें

यदि आपको शुगर क्रेविंग की समस्या है तो सबसे सही उपाय है आप अपनी भूख को शांत रखें। जिसके लिए आपको अपनी डाइट में प्रोटीन की मात्रा बढ़ानी होगी। जब आप प्रो​टीन बढ़ा देंगे तो आपकी जो मीठे की तलब है, वह कंट्रोल हो सकती है।

घर का माहौल अच्छा बनाएं

साथ ही सबसे महत्वपूर्ण जो बात है कि महिलाओं को माहवारी के दौरान घर का माहौल खुशनुमा रखना चाहिए। ​इससे आपका दिमाग भी शांत होगा। साथ ही आपको चिड़चिड़ाहट भी नहीं होगा। अपने आप को शांत रखकर महिलाएं अपनी मूड स्विंग की दिक्कत से छुटकारा पा सकती हैं।

फास्ट फूट का न करें सेवन

कई महिलाओं मूड ​स्विंग के चलते कुछ खाती पीती नहीं है। उन्हें कुछ अच्छा और तीखा खाने का मन करता है। लेकिन यह इस टाइम पर नुकसानदायक साबित हो सकता है। इसलिए जंक फूड्स खाने से बचें। बाहर के खाने से अच्छा है आप दलिया, दाल, फलियां और अन्य पौष्टिक आहार अपने खाने में शामिल करें।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।   

DNP न्यूज़ डेस्क
DNP न्यूज़ डेस्कhttps://www.dnpindiahindi.in
DNP न्यूज़ डेस्क उत्कृष्ट लेखकों एवं संपादकों का एक प्रशिक्षित समूह है. जो पिछले कई वर्षों से भारत और विदेश में होने वाली महत्वपूर्ण खबरों का विवरण और विश्लेषण करता है.उच्च और विश्वसनीय न्यूज नेटवर्क में डीएनपी हिन्दी की गिनती होती है. मीडिया समूह प्रतिदिन 24 घंटे की ताजातरीन खबरों को सत्यता के साथ लिखकर जनता तक पहुंचाने का कार्य निरंतर करता है

Latest stories