सोमवार, अप्रैल 22, 2024
होमलाइफ़स्टाइलMonk Fruit Sweetener क्या ले सकता है चीनी की जगह? इसके फायदे...

Monk Fruit Sweetener क्या ले सकता है चीनी की जगह? इसके फायदे जानकर उड़ जाएंगे आपके होश!

Date:

Related stories

Skin Care Tips: नेचुरल ग्लो पाने के लिए इन फलों को करें डाइट में शामिल, नहीं हटेगी लोगों की नजर

त्वचा का ध्यान रखने के लिए कुछ चीजों को डाइट में शामिल करने की जरूरत है। इन चीजों के सेवन से व्यक्ति को भरपूर पोषण मिलता है। इतना ही नहीं, इससे त्वचा की नमी बरकरार रहती है। इसलिए इन चीजों को निश्चित रूप से डाइट में शामिल करें।

Monk Fruit Sweetener: भागदौड़ भरी लाइफ में लोगों की सेहत अक्सर खराब हो जाती है। ऐसे में अगर आप अपनी हेल्थ पर खास ध्यान नहीं देंगे तो ये आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है। खराब लाइफस्टाइल के कई कारण हैं, इसमें तंबाकू, सिगरेट और चीनी यानी शुगर का नाम भी शामिल है। शुगर की ज्यादा खपत लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ कर रही है। ये शुगर इंसानों के लिए बेहद ही खतरनाक है।

शुगर से होने वाले नुकसान

  • डेली लाइफ में चीनी के इस्तेमाल से ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाता है। ऐसे में डायबिटीज जैसी बीमारी हो सकती है।
  • चीनी की अधिक खपत से एनर्जी लेवल में भी गिरावट होती है।
  • इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता पर बुरा असर पड़ता है। ऐसे में लोगो को सर्दी और जुकाम की परेशानी अधिक होती है।
  • चीनी की ज्यादा खपत से शरीर में मोटापे की परेशानी होती है। ये पांच गुना तेजी से फैट बढ़ाती है।
  • शुगर के अत्यधिक इस्तेमाल से दांतों में परेशानी होती है। दांत जल्द कमजोर हो जाते हैं। साथ ही मसूड़ों पर भी बुरा असर पड़ता है।
  • शुगर के अधिक उपयोग से नींद की कमी होती है। साथ ही मानसिक स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है।

Monk Fruit Sweetener शुगर का विकल्प?

चीनी कितनी जानलेवा साबित हो सकती है. ये तो आप जान गए होंगे। कई हेल्थ एक्सपर्ट शुगर के इस्तेमाल को कम करने की सलाह देते हैं। ऐसे में आप चीनी की जगह पर किसी और विकल्प को चुन सकते हैं। जी हां, हम बात कर रहे हैं मोंक फ्रूट स्वीटनर की।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मोंक फ्रूट एक नेचुरल स्वीटनर है। ये चीनी के मुकाबले 100 से 250 गुना अधिक मीठा होता है। इसमें कैलोरी बिल्कुल नहीं होती और ये एंटीऑक्सीडेंट गुणों के साथ आता है। आगे खबर में जानिए क्या है मोंक फ्रूट और इसके क्या फायदे हैं।

भिक्षु फल या मोंक फ्रूट क्या है?

मोंक फ्रूट स्वीटनर भिक्षु फल से निकाला जाता है। इसे बुद्दा फल भी कहते हैं। एक छोटा और गोल फल होता है, जो कि दक्षिण पूर्ण एशिया में उगाया जाता है। इसे हिमालय के दूसरी तरफ यानी तिब्बती इलाके में उगाया जाता है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस फल का उपयोग पारंपरिक चीनी चिकित्सा में सदियों से किया जा रहा है। हालांकि, खाने में इसका इस्तेमाल साल 2010 से ही शुरू हुआ है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भिक्षु फल को भारत के पालमपुर में अच्छी मात्रा में उगाया जाता है। अब इसका उपयोग धीरे-धीरे खाने में भी बढ़ रहा है।

जानिए मोंक फ्रूट के क्या हैं फायदें

  • मोंक फ्रूट स्वीटनर में जीरो कैलोरी होती है। ऐसे में इसका इस्तेमाल वजन कम करने के लिए किया जाता है। कई रिसर्च में ये दावा किया गया है कि ये शरीर के वजन को कम करने में सहायक साबित हो सकता है।
  • रिपोर्ट्स के मुताबिक, मॉन्क फ्रूट स्वीटनर के मोग्रोसाइड अर्क में एंटीऑक्सिडेंट और सूजन से लड़ने की क्षमता होती है। इसके सेवन से डीएनए को होने वाले नुकसान को रोका जा सकता है।
  • वहीं, कई रिसर्च रिपोर्ट्स में ये भी दावा किया गया है कि मॉन्क फ्रूट का अर्क कैंसर कोशिका वृद्धि को कम करने में मदद करता है।
  • मॉन्क फ्रूट स्वीटनर में जीरो कैलोरी होती है। ऐसे में ये रक्त शर्करा के लेवल को बढ़ने नहीं देता है। साथ ही डॉयबिटीज वाले लोगों के लिए एक शानदार ऑप्शन साबित हो सकता है। इसके साथ ही मॉन्क फ्रूट का अर्क ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करता है।

डिस्क्लेमर: इस आर्टिकल में बताए गए स्‍वास्‍थ्‍य, हेल्‍थ अपडेट, न्‍यूट्रीशन, पोषण, चिकित्‍सा व चिकित्‍सकीय सहायता संबंधी किसी भी तरह के उपचार/उपाय/विधि/दवा/डाइट/तरीका/दावों पर अमल करने से पहले संबंधित डॉक्टर से संपर्क जरूर करें। चिकित्‍सकीय सलाह के बाद ही सुझाए गए उपायों व तरीकों को अमल में लाएं। इस आर्टिकल के जरिये हमारा उद्देश्य केवल जानकारी व सूचना उपलब्‍ध करवाना है। DNP INDIA MEDIA NETWORK आर्टिकल में दिए गए संबंधित विवरणों की सटीकता /प्रमाणिकता/गारंटीड लाभ व दावों की पुष्टि नहीं करता है और न ही इसके लिए उत्‍तरदायी है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।   

Amit Mahajan
Amit Mahajanhttps://www.dnpindiahindi.in
अमित महाजन DNP India Hindi में कंटेंट राइटर की पोस्ट पर काम कर रहे हैं.अमित ने सिंघानिया विश्वविद्यालय से जर्नलिज्म में डिप्लोमा किया है. DNP India Hindi में वह राजनीति, बिजनेस, ऑटो और टेक बीट पर काफी समय से लिख रहे हैं. वह 3 सालों से कंटेंट की फील्ड में काम कर रहे हैं.

Latest stories