ChatGPT
ChatGPT

ChatGPT: ओपनएआई कंपनी ने बीते साल आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस यानी एआई की दुनिया में तहलका मचा दिया था। ओपनएआई ने चैटजीपीटी (ChatGPT) को लॉन्च किया था। चैटजीपीटी ने एआई सेक्टर में अपनी क्षमता को मजबूती के साथ दिखाया है। एक साल में चैटजीपीटी ने बताया है कि अगर सही सिग्नल या कीवर्ड दर्ज किया जाए तो वह बेहतर परिणाम दे सकता है। ऐसे में हम इस खबर में जानने की कोशिश करेंगे कि क्या चैटजीपीटी एक वित्तीय सलाहकार की जगह ले सकता है। नीचे जानें पूरी डिटेल।

एक वित्तीय प्लानर की जरूरत क्यों है

आपको बता दें कि चैटजीपीटी के पास एक बड़ा डेटाबेटस है। ऐसे में कोई भी व्यक्ति अपनी भविष्य की आर्थिक योजनाओं को लेकर कोई भी सवाल चैटजीपीटी से पूछ सकता है। इसे कोडिंग के साथ ही कई भाषाओं की अच्छी जानकारी है।

ChatGPT 2 1
क्या ChatGPT एक फाइनेंशियल सलाहकार की जगह ले सकता है? अहम पहलुओं को डिटेल में जानें 4

आर्थिक मामलों की अच्छी जानकारी रखने वाले एक्सपर्ट का कहना है कि भले ही चैटजीपीटी के पास अच्छी क्षमता हो, मगर एक ही आयु और एक ही बैकग्राउंड से आने वाले दो लोगों की वित्तीय योजनाएं अलग-अलग हो सकती है। ऐसे में चैटजीपीटी बेसिक वित्तीय जानकारी तो दे सकता है, मगर बेहतर योजना के लिए एक सलाहकार की जरूरत होगी। एक सलाहकार ही व्यक्ति की आय, टैक्स, निवेश और रिटर्न के हिसाब से भविष्य के लिए एक वित्तीय योजनाएं तैयार कर सकता है।

वित्तीय सलाहकार क्या करता है

चैटजीपीटी के पास डेटा की कोई कमी नहीं है, मगर एक व्यक्ति के लिए आर्थिक योजना बनाते हुए भावनाओं का भी काफी बड़ा हाथ होता है। ऐसे में चैटजीपीटी के पास भावनाओं का अभाव है। ऐसी स्थिति में एक वित्तीय सलाहकार ही उस व्यक्ति की अंदरुनी भावनाओं को समझते हुए एक बेहतर फाइनेंशियली सलाह दे सकता है।

आपातकालीन स्थिति में कौन बेहतर चैटजीपीटी या वित्तीय सलाहकार

अचानक से बाजार में आया कोई भी संकट चैटजीपीटी बेहतर ढंग से नहीं संभाल पाएगा। चैटबॉट के पास फिलहाल भविष्य के संकटों का आंकलन करने की क्षमता नहीं है। ऐसे में निवेश के समय एक वित्तीय सलाहकार ही सारी स्थितियों के ध्यान में रखकर वित्तीय प्लानिंग की सही जानकारी दे सकता है।

ChatGPT 4
क्या ChatGPT एक फाइनेंशियल सलाहकार की जगह ले सकता है? अहम पहलुओं को डिटेल में जानें 5

चैटजीपीटी पेड और अनपेड वर्जन में क्या कर सकता है

चैटजीपीटी के अनपेड वर्जन जहां पर यूजर्स अधिक सीखने की चाह के साथ आ सकते हैं। यहां पर कई विषयों के बारे में बेतहाशा जानकारी मिल सकती है। मगर इसके पेड वर्जन से जहां असमीमित फायदा मिल सकता है। वहीं, इसके अनपेड वर्जन में कुछ सीमाएं हैं, जैसे इसमें कस्टमर्स सपोर्ट और प्राथमिक रिस्पॉन्स की जिम्मेदारी कम हो जाती है। वहीं, चैटजीपीटी के पेड वर्जन में एआई पावर रिस्पॉन्स, कई भाषाओं का सपोर्ट और 24 घंटे कस्टमर्स सपोर्ट जैसे फायदे मिल सकते हैं।

फाइनेंशियल टारगेट में कैसे कर सकता है मदद

एक वित्तीय सलाहकार व्यक्ति कि मौजूदा स्थिति के आधार पर आर्थिक सलाह दे सकता है। इस दौरान वित्तीय सलाहकार व्यक्ति के आर्थिक उद्दश्यों को ध्यान में रख सकता है। मगर एक एआई बेस्ट चैटजीपीटी को ये सारी स्थिति समझाना मुमकन नहीं है।

आप क्या हासिल करने वाले हैं

एक आर्थिक सलाहकार आपको सारी स्थितियों के आधार पर निवेश और रिटर्न को ध्यान में रखते हुए आपकी वित्तीय योजनाओं को तैयार कर सकता है। वहीं, दूसरी तरफ, चैटजीपीटी के पास एक व्यावहारिक दृष्टिकोण की कमी होगी, जो कि भविष्य के संकटों से अंजान होकर कुछ योजना बना पाएगा। हालांकि, उसकी सफलता की गारंटी नहीं होगी।

वित्तीय सलाहकार के तौर पर चैटजीपीटी से जोखिम

चैटजीपीटी के पास फीड हुआ सारा आंकडा है। साथ ही वह रियल टाइम डेटा को भी एन्हांस करके उससे एक अच्छी वित्तीय सलाह दे सकता है। मगर इसके बाद भी इसमें कई सारी उलझन रहेंगी। फिलहाल इसका इस्तेमाल सीमित है। ये किसी भी सामान्य वित्तीय परेशानी को सुलझाने में सहायता कर सकता है। मगर चैटजीपीटी के पास जागरुकता और बायोलॉजिकल लाइफ का अभाव है। ऐसे में वह एक सॉफ्टवेयर प्रोग्राम के तौर पर डेटा को एनालाइस करके जानकारी दे सकता है, मगर एक बेहतर वित्तीय योजनाकार की जगह लेना मुश्किल है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

अमित महाजन DNP India Hindi में कंटेंट राइटर की पोस्ट पर काम कर रहे हैं.अमित ने सिंघानिया...