रविवार, जून 23, 2024
होमदेश & राज्यIndian Economy: IMF ने भारत की बढ़ती अर्थव्यवस्था के लिए विकास पूर्वानुमान...

Indian Economy: IMF ने भारत की बढ़ती अर्थव्यवस्था के लिए विकास पूर्वानुमान बढ़ाकर 6.8% किया, जानें क्या है इसके मायने

Date:

Related stories

Indian Economy को लेकर World Bank का बड़ा दावा, GDP प्रोजेक्शन व ग्रोथ रेट के आंकड़े आए सामने; जानें डिटेल

Indian Economy: भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर एक और बड़ी खबर सामने आई है। विश्व बैंक ने अपने आउटलुक में अनुमान जताया है कि वित्तिय वर्ष 2025 में दुनिया की बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में भारत की इकोनॉमी सबसे तेज गति से विकास करेगी।

फाइनेंशियल ईयर 2023-24 में GDP की तगड़ी छलांग, जानें विकास दर को लेकर क्या है वित्त विभाग की रिपोर्ट?

GDP: भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए बड़ी राहत भरी खबर सामने आई है। वित्त विभाग की ओर से दी गई ताजा जानकारी के अनुसार वित्त वर्ष 2023-24 की चौथी तिमाही में जीडीपी ग्रोथ रेट 7.8 फीसदी रही है जो कि पिछले वर्ष से कहीं बेहतर है।

Indian Economy: अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने भारत की अर्थव्यवस्था को लेकर एक नई भविष्यवाणी की है। आईएमएफ के अनुसार भारत की अर्थव्यवस्था तेजी से विकसित होने की उम्मीद है। इसका सबसे बड़ा कारण निवेश को माना जा रहा है। आपको बता दें कि आईएमएफ ने भारत के लिए अपने विकास पूर्वानुमान को जनवरी के 6.5% से बढ़ाकर 6.8% कर दिया है।

FY24 में 7.8% पहुंच सकती है भारत की अर्थव्यवस्था

सबसे दिलचस्प बात यह है कि आईएमएफ ने भारत की वित्त वर्ष 2024 की वृद्धि के लिए अपना दृष्टिकोण बढ़ाकर 7.8% कर दिया है, जो सरकार के 7.6% के अनुमान से अधिक है। रिपोर्ट मे कहा गया है कि भारत लगातार सकारात्मक विकास के स्रोत के रूप में उभर रहा है।

IMF ने मुद्रास्फीति पर जारी किया आंकड़ा

मार्च में भारत की मुद्रास्फीति दर 10 महीने के निचले स्तर 4.9% पर आ गई, हालांकि खाद्य मुद्रास्फीति 8% से ऊपर लगातार बनी रही। आईएमएफ ने भारत के लिए वित्त वर्ष 2025 के अपने पूर्वानुमान को 4.6% पर बरकरार रखा है, जिसमें वित्त वर्ष 26 में 4.2% की कमी की गई है। हालांकि भारतीय रिजर्व बैंक को चालू वित्त वर्ष में मुद्रास्फीति घटकर 4.5% होने का अनुमान है।

Latest stories