मंगलवार, अप्रैल 16, 2024
होमख़ास खबरेंFarmer Protest: सरकार ने किसान नेताओं को दिया बातचीत का आमंत्रण, कृषि...

Farmer Protest: सरकार ने किसान नेताओं को दिया बातचीत का आमंत्रण, कृषि मंत्री ने कहा सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए तैयार; जानें पूरी खबर

Date:

Related stories

Farmer Protest: Farmer Protest के बीच एक राहत की खबर सामने आ रही है। आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने किसान नेताओं के पास पांचवे दौर की बातचीत के लिए प्रस्ताव भेजा है। गौरतलब है कि किसानों ने एमएसपी पर सरकार का प्रस्ताव ठुकरा दिया था। जिसके बाद किसानों ने 21 फरवरी को दिल्ली कूच का ऐलान किया है। खबर के मुताबिक शंभू बॉर्डर पर किसानों और पुलिस के बीच हिंसक झड़प देखी गई। वहीं भीड़ को रोकने के लिए पुलिस और सुरक्षाबलों ने आंसू गैस के गोले भी दागे। हालांकि सरकार की तरफ से बातचीत का प्रस्ताव भेजने के बाद शंभू बार्डर पर फिर शांति नजर आ रही है।

Farmer Protest पर कृषि मंत्री ने कहा सभी मुद्दों बात करने के लिए तैयार

Farmer Protest के बीच बातचीत का प्रस्ताव रखते हुए कृषि मंत्री अर्जुन मुंडा ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्श पर एक पोस्ट शेयर करते हुए लिखा कि “सरकार चौथे दौर के बाद पांचवें दौर में सभी मुद्दे जैसे की MSP की माँग, crop diversification, पराली का विषय, FIR पर बातचीत के लिए तैयार है। मैं दोबारा किसान नेताओं को चर्चा के लिए आमंत्रित करता हूँ। हमें शांति बनाये रखना जरूरी है”। हालांकि अभी किसान नेताओं की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नही आई है। खबरों के मुताबिक शंभू बॉर्डर पर फिर से शांति नजर आ रही है।

दिल्ली कूच के लिए क्यों अडिग है किसान?

Farmer Protest
फाइल फोटो प्रतिकात्मक

गौरतलब है कि किसान अपनी मांगों को मनवाने के लिए केंद्र सरकार पर दबाव डालने का प्रयास कर रहे है। आपको बता दें कि अभी तक केंद्र सरकार और किसान नेताओं के बीच चार दौर की बातचीत हो चुकी है लेकिन अभी तक कोई समाधान नहीं निकला। वहीं अब कृषि मंत्री की तरफ से 5वे दौर की बातचीत के लिए किसानों को आमंत्रित किया गया है।

इससे पहले किसानों ने एमएसपी पर केंद्र सरकार के दिए गए प्रस्ताव को ठुकरा दिया था और दिल्ली कूच करने का ऐलान किया था। इसी बीच हरियाणा पुलिस ने पंजाब में अपने समकक्षों से अंतरराज्यीय सीमा के रास्ते आने वाले बुलडोजर और अन्य उपकरण जब्त करने का अनुरोध किया है। अब देखना दिलचस्प होगा कि किसान नेताओं का अगला कदम क्या होता है।

Latest stories