मंगलवार, जून 18, 2024
होमदेश & राज्यउत्तर प्रदेशसंजीव बालियान के आरोपों पर बिफर पड़े संगीत सोम, लोकसभा चुनाव हारे...

संजीव बालियान के आरोपों पर बिफर पड़े संगीत सोम, लोकसभा चुनाव हारे पूर्व मंत्री को दी नसीहत; जानें डिटेल

Date:

Related stories

तपती गर्मी के बीच वाराणसी में बदहाल हुए गंगा घाट! रिकॉर्ड नीचले स्तर तक पहुंचा नदी का पानी; यहां देखें वीडियो

Varanasi News: वाराणसी का नाम जहन में आते ही पवित्र गंगा नदी का जिक्र होना लगभग तय है। माना जाता है कि वाराणसी (काशी) को गंगा नदी के कारण ही खूब ख्याति मिली और इसी क्रम में देश-दुनिया के विभिन्न हिस्सों से लोग वाराणसी के अलग-अलग गंगा घाटों पर प्रकृति का मनोरम दृश्य देखने भी आते हैं।

UP में 12वीं पास उम्मीदवारों के लिए नौकरी पाने का शानदार मौका, जानें पंचायत सहायक भर्ती से जुड़े सभी जरूरी डिटेल

UP Panchayat Sahayak Bharti 2024: रोजगार की तलाश में जुटे युवाओं के लिए यूपी सरकार की ओर से एक बड़ी खुशखबरी सामने आई है। दरअसल यूपी सरकार राज्य में पंचायत सहायक के रिक्त पड़े 4821 पदों पर भर्ती करने जा रही है।

Kuwait Fire में झुलसे मृतक का शव पहुंचने से गोरखपुर में मचा कोहराम, स्थानिय MLA ने UP सरकार से की खास मांग; जानें डिटेल

Kuwait Fire Tragedy: देश के विभिन्न हिस्सों में कुवैत अग्निकांड को लेकर बीते दिनों खूब सुर्खियां बनी थीं। दरअसल कुवैत के मुंगाफ नामक स्थान पर बीते बुधवार को छह मंजिला इमारत में भीषण आग लगी थी।

Sanjeev Balyan: लोकसभा चुनाव 2024 के नतीजों की घोषणा के बाद केन्द्र में राष्ट्रीय जनतांत्रित गठबंधन (NDA) की नई सरकार का शपथ ग्रहण हो गया है। इसके तहत मंत्रियों के विभाग भी बांटने के साथ कार्यभार संभाल लिए गए हैं और विभागीय कार्य प्रणाली शुरू कर दिया गया है। हालाकि पश्चिमी यूपी की मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट से चुनाव हारे पूर्व केन्द्रीय मंत्री संजीव बालियान व सरधना सीट से पूर्व विधायक संगीत सोम के बीच सियासी रार बढ़ती जा रही है।

ताजा जानकारी के अनुसार संगीत सोम ने पूर्व मंत्री संजीव बालियान द्वारा लगाए गए कई गंभीर आरोपों पर पलटवार किया है। संगीत सोम ने मेरठ कैंट स्थित अपने आवास पर प्रेस वार्ता कर स्पष्ट किया है कि भाजपा को सरधना में जीत मिली है जबकि संजीव बालियान अपने ही क्षेत्र बुढ़ाना और चरथावल में हार गए हैं। उन्हें अपने हार की समीक्षा करनी चाहिए और वरिष्ठता को ध्यान में रखते हुए बयानबाजी से बचना चाहिए।

पूर्व विधायक संगीत सोम का पलटवार

पश्चिमी यूपी की सियासत में इन दिनों पारा चढ़ता नजर आ रहा है। दावा किया जा रहा है मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट पर पूर्व मंत्री संजीव बालियान की हार के बाद बीजेपी में आंतरिक कलह तेजी से बढ़ा है। इन तमाम राजनीतिक घटनाक्रमों के बीच आज मेरठ की सरधना सीट से पूर्व विधायक संगीत सोम ने अपने आवास पर प्रेस वार्ता कर पूर्व मंत्री द्वारा लगाए गए आरोपों पर पलटवार किया है।

संगीत सोम ने कहा कि “मुझे समुद्र किनारे घर बनाने का शौक है, मैं पत्थर हूं और किनारा ही मेरा ठिकाना है।” उन्होंने ये भी कहा कि “भाजपा सरधना विधानसभा क्षेत्र से जीती है जबकि पार्टी के प्रत्याशी को बुढ़ाना और चरथावल में हार मिली है। ऐसे में संजीव बालियान को बयानबाजी करने के बजाय अपने हार की समीक्षा करनी चाहिए।”

संगीत सोम ने ये भी कहा कि पूर्व की सरकार (सपा) में उन पर कई फर्जी मुकदमे दर्ज हुए और उन्हें जेल भी भेजा गया। ऐसे में वे कैसे सपा का साथ दे सकते हैं। संजीव बालियान द्वारा लगाए गए आरोपों पर संगीत सोम ने स्पष्ट किया है कि “मैं बीजेपी का सच्चा कार्यकर्ता हूं और मेरे लिए पार्टी सर्वोपरि है। ऐसे में पार्टी के साथ गलत करने की सोच भी नहीं सकता।”

पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने लगाए थे गंभीर आरोप

भारत सरकार में पूर्व मंत्री व मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट से चुनाव हार चुके संजीव बालियान ने बीते दिन प्रेस वार्ता कर इशारो-इशारो में सरधना से विधायक रहे संगीत सोम पर भी गंभीर आरोप लगाए थे।

संजीव बालियान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अपने हार को लेकर कहा कि “इसके पीछे मुस्लिम वोटों के ध्रुवीकरण के साथ जयचंदों का भी हाथ रहा है। इन लोगों ने समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी को खुल कर चुनाव लड़वाया है। पार्टी को इन पर कार्रवाई करनी चाहिए।” सियासी टिप्पणीकारों का दावा है कि संजीव बालियान के ये आरोप सरधना पूर्व विधायक के लिए थे।

संजीव बालियान ने अपने आधिकारिक एक्स हैंडल से ‘बालियान’ नामक एक्स यूजर के पोस्ट को रिपोस्ट किया है जिसमें वे कहते नजर आ रहे हैं कि “मेरा पानी उतरता देख किनारे पर घर मत बना लेना, मैं समुंदर हूँ वापस लौटकर जरूर आऊँगा।”

Gaurav Dixit
Gaurav Dixithttp://www.dnpindiahindi.in
गौरव दीक्षित पत्रकारिता जगत के उभरते हुए चेहरा हैं। उन्होनें चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय से अपनी पत्रकारिता की डिग्री प्राप्त की है। गौरव राजनीति, ऑटो और टेक संबंघी विषयों पर लिखने में रुची रखते हैं। गौरव पिछले दो वर्षों के दौरान कई प्रतिष्ठीत संस्थानों में कार्य कर चुके हैं और वर्तमान में DNP के साथ कार्यरत हैं।

Latest stories