बुधवार, जून 19, 2024
होमबिज़नेसSchengen visa: यूरोप जाना हुआ महंगा! स्लोवेनिया सरकार ने शेंगेन वीजा पर...

Schengen visa: यूरोप जाना हुआ महंगा! स्लोवेनिया सरकार ने शेंगेन वीजा पर बढ़ाया 12% का शुल्क, जानें पूरी खबर

Date:

Related stories

India-Middle East-Europe Corridor: इजरायल के PM नेतन्‍याहू ने इसे ‘गेम चेंजर’ कहा तो तुर्की के राष्‍ट्रपति एर्दोगन ने प्रोजेक्ट का किया विरोध

India-Middle East-Europe Corridor: भारत से यूरोप तक बन रहे आर्थिक गलियारे को इजरायल के PM नेतन्‍याहू ने इसे 'गेम चेंजर' कहा है। वहीं, तुर्की ने इसका विरोध किया है।

Schengen visa: अगर आप भी यूरोप जाने की सोच रहे है तो यह खबर आपके काम की हो सकती है। दरअसल यूरोप आने वाले पर्यटकों के लिए वीजा के लिए आवेदन शुल्क जल्द ही बढ़ा दिया जाएगा। आपको बता दें कि स्लोवेनिया के विदेश और यूरोपीय मामलों के मंत्रालय के अनुसार, यूरोपीय आयोग द्वारा अनुमोदन के बाद, शेंगेन वीज़ा शुल्क में 12 प्रतिशत की वृद्धि होगी। जिसे 11 जून 2024 से लागू कर दिया जाएगा। यूरोपीय मामलों के मंत्रालय के अनुसार इससे पर्यटन झेत्र को बढ़ावा मिलेगा।

इतना देना होगा Schengen visa शुल्क

वयस्क आवेदकों को अब €90 पहले €80 और बच्चों (6-12) को €45 (पहले €40) का भुगतान करना होगा। मालूम हो कि एक यूरो (€) की कीमत 90.45 भारतीय रुपये है। गौरतलब है कि फीस में आखिरी बढ़ोतरी फरवरी 2020 में हुई थी।

क्यो लिया गया फीस बढ़ोतरी का फैसला

यूरोपीय आयोग ने दुनिया भर में अल्पकालिक शेंगेन वीज़ा शुल्क में 12 प्रतिशत की वृद्धि करने का निर्णय लिया। हालांकि अब सबसे बड़ा सवाल है कि आखिर यूरोपीय आयोग ने वीज़ा शुल्क में 12 प्रतिशत की वृद्धि क्यों की है। खबरों के मुताबिक स्लोवेनियाई सरकार ने कहा कि यूरोपीय आयोग ने बढ़ते सिविल कर्मचारी वेतन और मुद्रास्फीति की ओर इशारा करते हुए बढ़ोतरी का कारण बताया है।

शेंगेन वीजा के फायदे

शेंगेन क्षेत्र, जिसमें 29 यूरोपीय देश शामिल हैं, शेंगेन वीज़ा धारकों को संक्षिप्त यात्राओं के लिए वीज़ा के बिना क्षेत्र में प्रवेश करने की अनुमति देता है। इसमे ऑस्ट्रिया, बेल्जियम, बुल्गारिया, क्रोएशिया, चेक गणराज्य, डेनमार्क, एस्टोनिया, फिनलैंड, फ्रांस, जर्मनी, ग्रीस, हंगरी, आइसलैंड, इटली, लातविया, लिकटेंस्टीन, लिथुआनिया, लक्ज़मबर्ग, माल्टा, नीदरलैंड, नॉर्वे (जो तकनीकी रूप से इसका हिस्सा नहीं है) शेंगेन क्षेत्र लेकिन नियमों के अपने स्वयं के सेट का पालन करता है), पोलैंड, पुर्तगाल, रोमानिया, स्लोवाकिया, स्लोवेनिया, स्पेन, स्वीडन और स्विट्जरलैंड उनमें से हैं।

Latest stories