बुधवार, मई 29, 2024
होमऑटोTraffic Challan Payment Online: गुरुग्राम में अब UPI से भर सकेंगे चालान,...

Traffic Challan Payment Online: गुरुग्राम में अब UPI से भर सकेंगे चालान, शुरु हुई सेवा

Date:

Related stories

E-Challan: अगर आपके वाहन की खींच ली गई है फोटो तो इस तरीके से पता करें चालान कटा है या नहीं

E-Challan: अगर आपने यातायात नियमों का उल्लंघन किया है और आपके वाहन की फोटो खींच ली गई है तो जानिए कैसे पता करें कि चालान कटा है या नहीं।

Traffic Challan Payment Online: दिल्ली से सटे गुरुग्राम में वाहन चालकों को बड़ी राहत मिल गई है। यहां पर अभ ऑन लाइन चालान भर सकेंगे। इसकी शुरुआत बुधवार से कर दी गई है। इस सुविधा के शुरु होने से लोगों को चालान भरना काफी आसान हो जाएगा।

गुरुग्राम में शुरु हुई ऑन लाइन चालान की सुविधा

डीसीपी वीरेंद्र विज ने सर्विस शुरु होने पर कहा कि, यहां पर अधिकतर लोग
ऑन लाइन भुगतान करते हैं । ऐसे में जब उन्हें ऑफ़लाइन मोड पर जुर्माना मांगा जाता है तो उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। ये फैसला हरियाणा सरकार के द्वारा लिया गया है। इसलिए चालान भरने के लिए लोग UPI का इस्तेमाल करें।

लाखों का जुर्माना भर चुके हैं लोग

आपको जानकार हैरानी होगी कि, ट्रैफिक के नियम तोड़ने पर लोगों ने पिछले कुछ दिनों में 9 लाख से ज्यादा का जुर्माना भरा है। इसीलिए यातायात के व्यवस्थित और सुचारू रुप से चलाने के लिए ये फैसला लिया गया है।

चालान भरने के लिए क्या करें

ऑन लाइन चालान भरने के लिए लोगों को चालान की कुछ डिटेल्स भरनी होंगी। इसमें चालान नंबर , रजिस्ट्रेशन जैसी जानकारियों को भरने के बाद पेमेंट क्रेडिट , डेबिट और UPI का ऑप्शन आएगा। जिस पर क्लिक करके आप आसानी से चाालन भर सकेंगे।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।  

Aarohi
Aarohihttps://www.dnpindiahindi.in/
आरोही डीएनपी इंडिया में मनी, देश, राजनीति , सहित कई कैटेगिरी पर लिखती हैं। लेकिन कुछ समय से आरोही अपनी विशेष रूचि के चलते ओटो और टेक जैसे महत्वपूर्ण विषयों की जानकारी लोगों तक पहुंचा रही हैं, इन्होंने अपनी पत्रकारिका की पढ़ाई पीटीयू यूनिवर्सिटी से पूर्ण की है और लंबे समय से अलग-अलग विषयों की महत्वपूर्ण खबरें लोगों तक पहुंचा रही हैं।

Latest stories