गुरूवार, मई 23, 2024
होमख़ास खबरेंFarmer Protest: अभी और धधक सकता है किसान आंदोलन, पंजाब में ट्रेन...

Farmer Protest: अभी और धधक सकता है किसान आंदोलन, पंजाब में ट्रेन रोको और टोल प्लाजा पर प्रदर्शन; क्या सरकार से बनेगी बात?

Date:

Related stories

Farmer Protest: पंजाब और हरियाणा के किसान दिल्ली में केंद्र सरकार के खिलाफ अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन करना चाहते हैं। मगर पंजाब-हरियाणा के शंभू बॉर्डर पर पुलिस ने किसान प्रोटेस्ट (Farmer Protest) को आगे बढ़ने से रोक दिया।

इस दौरान प्रदर्शनकारियों की तरफ से पत्थराव हुआ और पुलिस ने भी आंसू गैस के गोले दागे। इस हिंसक झड़प में कई किसान और पुलिसकर्मी घायल हो गए। वहीं, प्रदर्शनकारियों पुलिस के ड्रोन को हटाने के लिए पतंग उड़ाकर उसे गिराने की कोशिश की।

Farmer Protest अभी और बढ़ेगा?

किसान संगठनों ने ऐलान किया कि वे गुरुवार को पंजाब में 4 घंटे के लिए ट्रेने रोकेंगे। दोपहर 12 से शाम 4 बजे तक ट्रेनें रोकी जाएगी।

Farmer Protest को देखते हुए हरियाणा पुलिस की तैयारी

हरियाणा पुलिस ने दाता सिंहवाला-खनौरी सीमा पर सख्त बैरिकेड्स लगाकर मजबूत किलेबंदी कर दी है। ताकि कोई भी किसान प्रदर्शन के लिए दिल्ली कूच न कर सकें। हालांकि, प्रदर्शन के पहले दिन हिंसक झ़ड़प के बीच भी किसानों का प्रदर्शन जारी रहा।

Farmer Protest: 16 फरवरी को भारत बंद का ऐलान

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारतीय किसान यूनियन (कादियान) और संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने 16 फरवरी को देशभर में हड़ताल का ऐलान किया है। इसके साथ ही गुरुवार को सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक पंजाब के सभी टोल प्लाजा विरोध प्रदर्शन की भी योजना बनाई है।

दिल्ली पुलिस ने मजबूत की सुरक्षा व्यवस्था

उधर, किसानों को दिल्ली में घुसने से रोकने के लिए दिल्ली पुलिस ने सभी सीमाओं को सील कर दिया है। साथ ही सभी बॉर्डरों पर सुरक्षा जांच को कड़ा कर दिया है। इसी वजह से बॉर्डर पार करने में आम लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। दिल्ली पुलिस ने ट्रैफिक एडवाइजरी जारी की है और लोगों से वैकल्पिक मार्गों से जाने की अपील की है।

Farmer Protest: आज सरकार के साथ बैठक

वहीं, किसानों के दिल्ली चलो मार्च के बीच किसानों और केंद्र सरकार के बीच तीसरे दौर की वार्ता गुरुवार शाम को हो सकती है। केंद्र सरकार की तरफ से केंद्रीय कृषि अर्जुन मुंडा, पीयूष गोयल और नित्यानंद राय किसानों के प्रतिनिधियों के साथ वर्चुअल बैठक करने वाले हैं।

क्या है किसानों की मांग

उधर, प्रदर्शनकारी किसानों की मांग है कि एमएसपी की कानूनी गारंटी दी जाएं। स्वामीनाथन आयोग की सभी सिफारिशों को लागू किया जाए। किसान और खेत मजदूरों के लिए पेंशन, लखीमपुर खीरी हिंसा के पीड़ितों के लिए न्याय की मांग और सभी किसानों का कर्ज माफ किया जाए।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।   

Amit Mahajan
Amit Mahajanhttps://www.dnpindiahindi.in
अमित महाजन DNP India Hindi में कंटेंट राइटर की पोस्ट पर काम कर रहे हैं.अमित ने सिंघानिया विश्वविद्यालय से जर्नलिज्म में डिप्लोमा किया है. DNP India Hindi में वह राजनीति, बिजनेस, ऑटो और टेक बीट पर काफी समय से लिख रहे हैं. वह 3 सालों से कंटेंट की फील्ड में काम कर रहे हैं.

Latest stories