बुधवार, जुलाई 17, 2024
होमख़ास खबरेंPM Vishwakarma Scheme: युवाओं के लिए कारगर है केन्द्र की ये योजना,...

PM Vishwakarma Scheme: युवाओं के लिए कारगर है केन्द्र की ये योजना, स्टाइपेंड के साथ कम दर पर लोन का प्रावधान; जानें डिटेल

Date:

Related stories

PMAY-U योजना के तहत अब इन लोगों को भी मिलेगा आशियाना, जानें क्या हुआ बड़ा बदलाव

Pradhan Mantri Awas Yojana: अब 3 नहीं बल्कि 6 लाख सालाना इनकम वाले लोगों भी हो सकते हैं प्रधानमंत्री आवास योजना में शामिल ।

बेरोजगारों को E-Sharm Nipun Yojana के तहत मिल रहा रोजगार का अवसर, आवेदन से लेकर योग्यता तक सब जानें

E-Sharm Nipun Yojana: ई-श्रम निपुण योजना के चलते श्रमिकों को कई सारे कार्यो को करने के लिए ट्रेंनिंग और विदेश में जाने का मौका मिलेगा।

Free Silai Machine Yojana के तहत महिलाओं को मिलेगी मुफ्त मशीन , ऐसे उठाएं योजना का लाभ

Free Silai Machine Yojana: भारत सरकार की फ्री सिलाई योजना के चलते महिलाओं को मिलेगी आर्थिक सहायता। हर राज्य में होगी 50 हजार से अधिक महिला।

PM VIDHYA LAKSHMI YOJANA के तहत अब गरीब बच्चों को मिलेगा पढ़ाई के लिए घर बैठे पैसा, यहां करें आवदेन

PM VIDHYA LAKSHMI YOJANA: इसका योजना का मुख्य उद्देश गरीबों बच्चों की मदद कर उन्हें अच्छी दिशा की ओर ले जाना हैं और उनका उज्जवल भविष्य बनाना।

PM Vishwakarma Scheme: भारत सरकार की ओर से कई सारी ऐसी योजनाएं चलाई जाती हैं जो प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से युवाओं के लिए कारगर साबित होती हैं। पीएम विश्वकर्मा योजना (PM Vishwakarma Scheme) भी उनमें से एक है। भारत सरकार के इस खास योजना का लक्ष्य बेरोजगारी दूर करना है।

पीएम विश्वकर्मा योजना की मदद से युवाओं को कौशल प्रशिक्षण एवं आर्थिक सहायता दी जाती है। कौशल प्रशिक्षण के दौरान ही युवाओं को 500 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से स्टाइपेंड उपलब्ध कराया जाता है और साथ ही कम ब्याज दर पर व्यवसाय करने के लिए ऋण भी मुहैया कराया जाता है। ऐसे में आइए हम आपको इस खास योजना के बारे में विस्तार से बताते हैं।

PM Vishwakarma Scheme से जुड़े प्रमुख डिटेल

भारत सरकार द्वारा शुरू की गई पीएम विश्वकर्मा योजना से जुड़े सभी प्रमुख डिटेल इस प्रकार हैं।

योजना का नामप्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना
स्वामित्वकेन्द्र सरकार
लाभार्थीबेरोजगार युवा
लाभकौशल प्रशिक्षण एवं आर्थिक सहायता
स्टाइपेंड राशि500 रुपये प्रतिदिन प्रशिक्षण के दौरान
आवेदन माध्यम ऑनलाइन / ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइट pmvishwakarma.gov.in

पीएम विश्कर्मा योजना का लक्ष्य देश के विभिन्न हिस्सों से बेरोजगारी को दूर करना है। सरकार का दावा है कि युवा अगर प्रशिक्षित होगा तो वह व्यवसाय या अन्य गतिविधियों के माध्यम से अपनी आजीवीका आसानी से चला सकेगा।

युवाओं के लिए बेहद कारगर है योजना

केन्द्र सरकार की पीएम विश्वकर्मा योजना बेरोजगार युवाओं के लिए बेहद कारगर है। इस खास योजना के तहत आवेदक को स्टाइपेंड के अलावा जरूरत के हिसाब से टूलकिट खरीदने के लिए 15000 रूपए प्रदान किए जाते हैं। इसके साथ ही केन्द्र सरकार पीएम विश्वकर्मा योजना के अंतगर्त, आवेदकों को उद्योग शुरू करने के लिए 3 लाख रूपए तक की लोन देती है।

ध्यान देने योग्य बात ये है कि पहले सरकार लाभार्थी को 1 लाख रूपये का लोन देती है जिसके भुगतान के लिए 18 महीने का समय दिया जाता है और फिर अगली बार 2 लाख रूपये का लोन दोती है जिसके भुगतान के लिए 30 महीने का समय दिया जाता है। ऐसे में युवा सरकार की ओर से उपलब्ध कराई जाने वाली इस धनराशि की मदद से अपना व्यवसाय स्थापित कर सकते हैं।

योजना का लाभ उठाने के लिए पात्रता

पीएम विश्वकर्मा योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक की आयु कम से कम 18 वर्ष होना चाहिए। इस योजना का लाभ परिवार में सिर्फ एक सदस्य को ही दिया जाएगा। ध्यान देने योग्य बात ये है कि परिवार में कोई भी सदस्य सरकारी नौकरी में नहीं होना चाहिए। प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक के पास ई-श्रम कार्ड होना चाहिए और आवेदक के पास कोई रोजगार नहीं होना चाहिए। बता दें कि यह योजना सिर्फ गरीब और निम्न वर्ग के लोगों के लिए है।

आवश्यक दस्तावेज

पीएम विश्वकर्मा योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन ऑनलाइन या ऑफलाइन माध्यम से अपने आवेदन की प्रक्रिया को पूर्ण कर सकता है। इसके लिए आवेदक के पास आधार कार्ड, ई-श्रम कार्ड, मजदूरी कार्ड, राशन कार्ड, मोबाइल नंबर, निवास प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र और जॉब कार्ड होना चाहिए।

नोट– पीएम विश्वकर्मा योजना से जुड़ी ज्यादा जानकारी हासिल करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट pmvishwakarma.gov.in पर जाएं।

Gaurav Dixit
Gaurav Dixithttp://www.dnpindiahindi.in
गौरव दीक्षित पत्रकारिता जगत के उभरते हुए चेहरा हैं। उन्होनें चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय से अपनी पत्रकारिता की डिग्री प्राप्त की है। गौरव राजनीति, ऑटो और टेक संबंघी विषयों पर लिखने में रुची रखते हैं। गौरव पिछले दो वर्षों के दौरान कई प्रतिष्ठीत संस्थानों में कार्य कर चुके हैं और वर्तमान में DNP के साथ कार्यरत हैं।

Latest stories