मंगलवार, मई 28, 2024
होमविदेशEris Variant: ब्रिटेन में कोविड के मामलों में आया जबरदस्त उछाल, नए...

Eris Variant: ब्रिटेन में कोविड के मामलों में आया जबरदस्त उछाल, नए वेरिएंट एरिस से दुनिया भर के लोगों की बढ़ी टेंशन

Date:

Related stories

कोरोना वैक्सीन को लेकर Elon Musk का बड़ा दावा, बोले-‘कोविड शॉट ने मुझे करीब-करीब अस्पताल पहुंचा दिया था’

Elon Musk: इलेक्ट्रिक कार कंपनी टेस्ला के सीईओ एलन मस्क अपने बयानों को लेकर एक बार फिर चर्चाओं मे हैं। मस्क ने कोविड वैक्सीन को लेकर अपने आधिकारिक 'X' हैंडल से एक पोस्ट किया जिसको लेकर खूब सुर्खियां बन रही हैं।

Eris Variant: साल 2020 में आई कोरोना महामारी का प्रकोप दुनिया के सभी देश झेल चुके हैं। ज्यादातर लोग अभी इस महामारी के प्रकोप से उबर ही रहे थे कि फिर से Covid-19 को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है। ऐसा बताया जा रहा है कि, अमेरिका और ब्रिटेन में एक बार फिर कोविड-19 का ग्राफ बढ़ने लगा है। यहां लगातार दो-तीन हफ्तों से करोना के नए केस बढ़ रहे हैं। दरअसल अमेरिका में पिछले तीन हफ्तों से और ब्रिटेन में पिछले दो हफ्तों से कोरोना वायरस के मामलों में तेजी देखी गई है। ‌ऐसा बताया जा रहा है कि, कोरोना वायरस का नया वेरिएंट एरिस दुनिया में एक बार फिर तबाही मचा सकता है। इस वेरिएंट के आने की वजह से आशंका लगाई जा रही है कि, दुनिया में एक बार फिर महामारी की लहर आ सकती है।

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने नए वेरिएंट को लेकर कही ये बात

ऐसा बताया जा रहा है कि, कोविड-19 के एक नए वेरिएंट एरिस ने दुनिया में दस्तक दे दी है। इस नए वेरिएंट को 31 जुलाई 2023 को ही पहचाना गया है। आपको बता दें कि, यह ब्रिटेन में सबसे तेजी से फैलने वाला दूसरा वेरिएंट बन गया है। दरअसल खराब मौसम और कमजोर इम्यूनिटी की वजह से यह वेरिएंट काफी तेजी से फैल रहा है। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने पिछले 2 हफ्ते पहले एरिस वेरिएंट पर नजर रखना शुरू कर दिया था। इसी कड़ी में डब्ल्यूएचओ ने इस वेरिएंट पर कहा कि, एरिस वेरिएंट की निगरानी की जा रही है। इस बीच लोगों को भी सतर्क रहने की सलाह दी गई है।

क्या भारत में हैं इसका खतरा

अमेरिका में कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे है। ऐसा बताया जा रहा है कि, यह वेरिएंट युवा के साथ बुजुर्ग वह कमजोर इम्यूनिटी वाले लोगों में काफी जल्दी से फैल रहा है। ऐसे में अगर इस बारे में बात करें कि, क्या इस नए वेरिएंट का भारत में खतरा है, तो इस सवाल पर हेल्थ एक्सपर्ट कहते हैं कि एरिस वेरिएंटपर नजर रखनी होगी। ब्रिटेन से आ रहे यात्रियों की एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग की जाए। इसी के साथ अगर भारत में एरिस वेरिएंट का कोई नया केस आता है तो उसे तुरंत क्वॉरेंटाइन किया जाए और कोविड-19 के सारे प्रोटोकॉल को फॉलो करें ‌।

एरिस वेरिएंट के लक्षण

एरिस वेरिएंट के लक्षणों की बात करें तो इसमें नाक बहना, सिर दर्द होना, थकान महसूस करना, छींक आना और गले में खराश आदि इसके लक्षणों में से हैं। ऐसा बताया जा रहा है कि, कमजोर इम्यूनिटी वह बुजुर्गों में इस एरिस वेरिएंट का खतरा काफी ज्यादा है। ऐसे में लोगों को सतर्क रहने की काफी ज्यादा जरूरत है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Anjali Sharma
Anjali Sharmahttps://dnpindiahindi.in
अंजलि शर्मा पिछले 2 साल से पत्रकारिता के क्षेत्र में काम कर रही हैं। अंजलि ने महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी से अपनी पत्रकारिता की पढ़ाई की है। फिलहाल अंजलि DNP India Hindi वेबसाइट में कंटेंट राइटर के तौर पर काम कर रही हैं।

Latest stories