रविवार, मई 26, 2024
होमख़ास खबरेंGehlot-Pilot Tussle: सुलह की आखिरी कोशिश भी हुई खत्म, Pilot के अल्टीमेटम...

Gehlot-Pilot Tussle: सुलह की आखिरी कोशिश भी हुई खत्म, Pilot के अल्टीमेटम पर CM Gehlot ने दिया बड़ा बयान

Date:

Related stories

‘अनुभव की कमी बन रही CM पद के रास्ते का रोड़ा’! जानें मुख्यमंत्री की दावेदारी को लेकर क्या है महंत बालकनाथ के दावे

Rajasthan News: राजस्थान विधानसभा चुनाव के परिणाम जारी होने के बाद से सूबे में मुख्यमंत्री पद को लेकर रस्सा-कस्सी जारी है। बता दें कि भाजपा ने राज्य की 100 से ज्यादा विधानसभा सीटों पर जीत दर्ज कर प्रचंड बहुमत हासिल किया है।

PM मोदी ने राजस्थान को दी हजारों करोड़ की सौगात, जयपुर के बाद जोधपुर के सियासी समीकरण को साधने की तैयारी में BJP

Rajasthan News: रेतीले राज्य राजस्थान में मौसम के साथ सियासत में भी गर्माहट देखने को मिल रही है। राजस्थान में इस वर्ष के अंत में विधानसभा के चुनाव होने हैं।

राजस्थान के सियासी रण में बिना CM फेस के उतरने की तैयारी में BJP! जानें वसुंधरा राजे के अलावा और कौन हैं दावेदार के...

Rajasthan News: केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा राजस्थान के दौरे पर हैं। इस दौरान सूबे की सियासी समीकरण पर सूब विचार-विमर्श होने की खबर भी है। कहा जा रहा है कि भाजपा इस वर्ष के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव में बिना मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित किए ही चुनावी मैदान में उतरने की तैयारी में है।

CM गहलोत के मिशन 2030 यात्रा की हुई शुरुआत, 9 दिनों में होगा 18 जिलों का दौरा; राजस्थान को नंबर वन बनाने की तैयारी

Rajasthan News: सियासत के दृष्टिकोण से राजस्थान उन राज्यों में से एक है जहां एक कार्यकाल के बाद से सत्ता पलट जाती है। इसको लेकर बीते तीन दशकों तक का उदाहरण दिया जाता है। अब इस क्रम में सूबे से एक अलग खबर सामने आ रही है।

Rajasthan News: ज्योति मिर्धा के BJP में शामिल होने से बदला नागौर लोकसभा का समीकरण, बेनिवाल के साथ CR चौधरी की मुश्किलें बढ़ी

Rajasthan News: राजस्थान की रेत के साथ-साथ इस राज्य की पहचान अन्य कई चीजों से भी है। इसमें राजनीतिक विरासत संभाल रहे कुछ परिवार आज भी सूबे की सियासत में चर्चा में रहते हैं।

Gehlot-Pilot Tussle: जैसे जैसे राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 का समय नजदीक आता जा रहा है, राजस्थान कांग्रेस में सीएम अशोक गहलोत और और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट के बीच खींचतान बढ़ती ही जा रही है। इसी बीच कांग्रेस आलाकमान की तरफ से आज दिल्ली में निर्णायक बैठक प्रस्तावित की गई थी। जिसमें सचिन पायलट को राजस्थान कांग्रेस प्रभारी सुखजिंदर सिंह रंधावा के साथ कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने के आवास पर बुलाया गया था। लेकिन अंतिम समय पर इसे कैंसिल कर दिया गया। जिससे ये रार अभी सिमटने का नाम नहीं ले रही। ऐसे में कहा गया था कि सचिन पायलट 15 दिन का आखिरी अल्टीमेटम शीर्ष नेतृत्व को दे चुके हैं। लेकिन अचानक मीटिंग कैंसिल करने की वजह को राष्ट्रीय अध्यक्ष खड़गे का कर्नाटक कैबिनेट के विस्तार में जाना बताया जा रहा है।

सुलह की आखिरी कोशिश थी ये मीटिंग

बता दें सीएम गहलोत-पायलट का राजीनीतिक महत्वाकांक्षा विवाद चुनाव से पहले अपने अपने शक्ति प्रदर्शन के अंतिम पड़ाव पर है। इस विवाद की चपेट में पूरी राजस्थान कांग्रेस दो फाड़ होने की कगार पर पहुंच गई है। इस बैठक से पहले आलाकमान के पास संगठन, गहलोत सरकार के मंत्रियों, विधायकों के बयानों के साथ भृष्टाचार के मामलों की जानकारी पहुंची है। जिसमें कई अपनी सरकार के खिलाफ कई वीडियो और बयान कार्रवाई को लेकर हैं। इसके साथ ही 31 मई तक मे अल्टीमेटम का समय नजदीक आ गया है।

इसे भी पढ़ेंःNew Parliament Building: तमिल परंपराओं से सेंगोल की होगी नई संसद में स्थापना, जानें क्या है इसका चोल साम्राज्य से संबंध?

अल्टीमेटम को गहलोत ने बताया मीडिया का फैलाया भ्रम

वहीं दूसरी ओर पायलट के अल्टीमेटम को सीएम गहलोत ने मीडिया द्वारा फैलाया गया भ्रम बताया है। उन्होंने कहा पूरी कांग्रेस पार्टी एकजुट है। इसी तरह राजस्थान कांग्रेस प्रभारी सुखजिंदर सिंह रंधावा ने भी पायलट के अल्टीमेटम दिए जाने जैसी किसी भी बात से इंकार किया है साथ ही आलाकमान के भी अल्टीमेटम से इंकार किया है। बता दें हाल ही में कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने अजमेर से जयपुर की जनसंघर्ष पदयात्रा के माध्यम से 3 मांगों के साथ 15 दिन का कांग्रेस आलाकमान को एक्शन लेने का अल्टीमेटम दिया था।

इसे भी पढ़ेंः New Parliament Building: नए संसद भवन का एमपी कनेक्शन संयोग है या प्रयोग! जानें क्यों इन मंदिरों से हो रही तुलना?

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Hemant Vatsalya
Hemant Vatsalyahttp://www.dnpindiahindi.in
Hemant Vatsalya Sharma DNP INDIA HINDI में Senior Content Writer के रूप में December 2022 से सेवाएं दे रहे हैं। उन्होंने Guru Jambeshwar University of Science and Technology HIsar (Haryana) से M.A. Mass Communication की डिग्री प्राप्त की है। इसके साथ ही उन्होंने Delhi University के SGTB Khalasa College से Web Journalism का सर्टिफिकेट भी प्राप्त किया है। पिछले 13 वर्षों से मीडिया के क्षेत्र से जुड़े हैं।

Latest stories