Cyber Fraud
Cyber Fraud

Cyber Fraud: तकनीक में विकास के साथ-साथ जहां एक ओर लोगों को काफी सरलता होती है। वहीं, दूसरी तरफ, इसी तकनीक का गलत इस्तेमाल करके साइबर धोखेबाजी (Cyber Fraud) से ठगी का शिकार किया जा रहा है।

जी हां, इन दिनों साइबर अपराध (Cyber ​​Crime) के कई मामले सामने आ रहे हैं, जहां पर लोगों की मेहनत की कमाई जालसाजी करके लूटी जा रही है। ऐसे में अगर आप फोनपे (PhonePe) के जरिए यूपीआई पेमेंट (UPI Payment) करते हैं तो आपको सतर्क होने की जरूरत है।

Cyber Fraud का नया तरीका

आपको जानकारी के लिए बता दें कि फोनपे यूजर्स के लिए एक अलर्ट जारी किया गया है। दरअसल साइबर ठगों ने धोखेबाजी करने का एक नया तरीका तलाशा है। इसमें साइबर ठग का कॉल आता है और कहता है कि आपका पेटीएम अकाउंट बंद होने वाला है।

ऐसे में पेटीएम अकाउंट में जो पैसे हैं, उसे किसी दूसरे अकाउंट में ट्रांसफर करना होगा। इसके बाद साइबर अपराधी आपसे फोनपे (PhonePe) का नंबर मांगता है फिर उस नंबर पर एक ओटीपी भेजता है और ओटीपी देते ही फोनपे अकाउंट से पैसे उड़ जाते हैं।

Cyber Fraud से कैसे बचें

  • इस तरह की साइबर धोखेबाजी से बचने के लिए आपको हमेशा अलर्ट रहना है।
  • अगर कोई कॉल करके पैसे ट्रांसफर करने के लिए कहता है तो आपको उसकी बातों में बिल्कुल भी नहीं आना है।
  • किसी के साथ भी अपनी बैंक की या कोई भी निजी जानकारी शेयर नहीं करनी है।
  • फोन पर आए किसी भी अनजान SMS या लिंक पर क्लिक नहीं करना है।
  • अपनी यूपीआई आईडी और पिन नंबर को हमेशा सुरक्षित रखें। किसी के साथ भी इसे शेयर न करें। जरूरत पड़ने पर इसे बदलते भी रहे।
  • सोशल मीडिया पर अपनी कोई भी प्राइवेट जानकारी साझा न करें।

वहीं, अगर आप साइबर ठगी के शिकार हो जाते हैं तो आप साइबर पोर्टल पर इसकी शिकायत कर सकते हैं। साथ ही हेल्पलाइन नंबर 1930 की भी मदद ले सकते हैं।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।   

अमित महाजन DNP India Hindi में कंटेंट राइटर की पोस्ट पर काम कर रहे हैं.अमित ने सिंघानिया...