Tesla Burning Car

Tesla Burning Car: आपने गाड़ियो में आग लगते हुए तो देखा होगा लेकिन इस बार किसी आम कार नहीं बल्कि टेस्ला कंपनी की कार में आग लगने की घटना सामने आई है। ऐसा पहली बार नहीं है कि टेस्ला कार में पहली बार आग लगी हो बल्कि पहले भी कई बार टेस्ला इलेक्ट्रिक कारों में आग की खबरें सामने आई हैं। बता दें कि इस दुर्घटना के वक्त टेस्ला कार में दो भारतवंशी भाई बहन बैठे हुए थे लेकिन इनमें से किसी की जान को किसी भी तरह का नुकसान नहीं हुआ है। तो डालते हैं घटना पर पूरी नज़र।

ये भी पढ़ें: OLA और ATHER क्यों खरीदें जब 50000 रुपये से कम में मिल रहे ये खतरनाक ELECTRIC SCOOTER, स्पीड और माइलेज में भी हैं परफेक्ट

एनआरआई भाई-बहन बैठे हुए थे कार में दुर्घटा के दौरान

अमेरिका के कैलिफोर्निया स्थित सैक्रामेंटो में एक एनआरआई भाई-बहन टेस्ला मॉडल एस में बैठकर कहीं जा रहे थे और इस दौरान उनकी कार में आग लग गई, फिर इसके बाद उसमें विस्फोट हो गया। थोड़ी ही देर में कार का अगला हिस्सा पूरी तरह से जलकर खाक हो गया लेकिन गनीमत रही कि दोनों एनआरआई को किसी भी तरह की हानि नहीं पहुँची। दोनों भारतवंशी समय पर ही बाहर निकल आए और इन दोनों भाई-बहन की जान बाल-बाल बच गई। सोशल मीडिया पर इस दुर्घटना का वीडियो भी वायरल है जिसमें इस कार को आग की लपटों में देखा जा सकता है।

इन कारणों से लगी आग

बता दें कि पिछले साल भी टेस्ला की कई इलेक्ट्रिक कारों में आग की खबरें सामनें आई थीं। गाड़ियों में आग लगने की वजह बैटरी मैनेजमेंट सिस्टम में खामियों की वजह बताई जा रही है। ऐसे में कई लोगों के जान-माल को भी काफी नुकसान पहुंचता है। इन आग की घटनाओं पर कंपनी सीधे तौर पर बयान देने से बचती नजर आई है। वहीं टेस्ला के मॉडल एस कि बैटरी में आग लगी थी। इस कार में आग इतनी भीषण थी कि इस आग बुझाने वाले पूरे ऑपरेशन में लगभग 6000 गैलन यानी लगभग 2300 लीटर पानी का इस्तेमाल हुआ।

ये भी पढ़ें: कई बाइक्स का खेल बिगाड़ेंगी ROYAL ENFIELD की नई INTERCEPTOR 650 और CONTINENTAL GT 650, देखते ही खरीदने का करेगा मन

शोएब अहमद एक अच्छे पत्रकार हैं और इन्होंने पत्रकारिता के क्षेत्र में अपनी पोस्ट...