गुरूवार, अप्रैल 18, 2024
होमदेश & राज्यउत्तर प्रदेशRam Mandir प्राण प्रतिष्ठा में पहुंचे Imam Umer Ahmed के खिलाफ फतवा...

Ram Mandir प्राण प्रतिष्ठा में पहुंचे Imam Umer Ahmed के खिलाफ फतवा जारी, जानें पूरा प्रकरण

Date:

Related stories

Ram Mandir: यूपी के सरयू तट पर बसी अयोध्या नगरी में 22 जनवरी को वीवीआईपी मेहमानों का जमावड़ा लगा था। दरअसल इस खास दिन को राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा का आयोजन किया गया था जिसके तहत प्रभु रामलला की भव्य प्रतिमा मंदिर के गर्भगृह में स्थापित की गई। राम मंदिर (Ram Mandir) प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने के लिए देश-दुनिया से तमाम गणमान्य मेहमान भी पहुंचे थे। इसमे ऑल इंडिया इमाम ऑर्गनाइजेशन के प्रमुख डॉ. इमाम उमेर अहमद इलियासी का नाम भी शामिल था।

ताजा जानकारी के अनुसार डॉ. इमाम उमेर अहमद (Imam Umer Ahmed) के खिलाफ अब फतवा जारी किया गया है। इमाम ऑर्गनाइजेशन प्रमुख की ओर से स्पष्ट किया गया है कि उनके अयोध्या (Ayodhya) जाने के फैसले के बाद फतवा जारी किया गया है। उनका कहना है कि “राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में जाकर उन्होंने कोई गुनाह नहीं किया है और वे इसके लिए ना तो माफी मांगेंगे और ना ही अपने पद से इस्तीफा देंगे।”

Imam Umer Ahmed के खिलाफ जारी हुआ फतवा

ऑल इंडिया इमाम ऑर्गनाइजेशन के प्रमुख डॉ. इमाम उमेर अहमद इलियासी (Imam Umer Ahmed) के खिलाफ समुदाय की ओर से फतवा जारी किया गया है। ये फतवा बीते दिन यानी सोमवार को जारी हुआ। इमाम उमेर अहमद की ओर से इस संबंध में स्पष्टीकरण सामने आया है।

उन्होंने कहा है कि “मुख्य इमाम के रूप में श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की ओर से मुझे राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा (Ram Mandir) में शामिल होने के लिए निमंत्रण मिला। मैंने दो दिनों तक विचार किया और फिर देश के सद्भाव के लिए अयोध्या (Ayodhya) जाने का फैसला किया। इसी संबंध में मेरे खिलाफ फतवा जारी हुआ है।”

धमकी भरे कॉल

राम मंदिर (Ram Mandir) प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने के बाद 22 जनवरी की शाम से ही इमाम उमेर अहमद (Imam Umer Ahmed) को धमकी भरे कॉल आ रहे हैं। उन्होंने स्पष्ट किया है कि “मैंने कुछ कॉल रिकॉर्ड किए हैं जिनमें कॉल करने वालों ने मुझे जान से मारने की धमकियां दी हैं। जो लोग मुझसे प्यार करते हैं, देश से प्यार करते हैं, वे मेरा समर्थन करेंगे। जो लोग समारोह में शामिल होने के लिए मुझसे नफरत करते हैं, उन्हें शायद पाकिस्तान चले जाना चाहिए।”

माफी नहीं मांगूंगा

इमाम उमेर अहमद (Imam Umer Ahmed) ने फतवा जारी होने के बाद स्पष्ट किया है कि राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा (Ram Mandir) में समारोह में शामिल होकर उन्होंने प्यार का पैगाम दिया है ना कि कोई गुनाह नहीं किया है। उन्होंने स्पष्ट रुप से कहा है कि वो माफी नहीं मांगेंगे और ना ही इस्तीफा देंगे चाहें कोई कुछ भी कर ले।

Ram Mandir प्राण प्रतिष्ठा समारोह

यूपी के अयोध्या नगरी के साथ संपूर्ण देश के लिए 22 जनवरी का दिन बेहद खास रहा था। दरअसल इसी दिन राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह का आयोजन किया गया था जिसके तहत प्रभु रामलला की दिव्य प्रतिमा मंदिर के गर्भगृह में स्थापित की गई थी।

राम मंदिर (Ram Mandir) प्राण प्रतिष्ठा समारोह में पीएम मोदी (PM Modi) के साथ RSS प्रमुख मोहन भागवत, राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) समेत तमाम मेहमान शामिल हुए थे।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Gaurav Dixit
Gaurav Dixithttp://www.dnpindiahindi.in
गौरव दीक्षित पत्रकारिता जगत के उभरते हुए चेहरा हैं। उन्होनें चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय से अपनी पत्रकारिता की डिग्री प्राप्त की है। गौरव राजनीति, ऑटो और टेक संबंघी विषयों पर लिखने में रुची रखते हैं। गौरव पिछले दो वर्षों के दौरान कई प्रतिष्ठीत संस्थानों में कार्य कर चुके हैं और वर्तमान में DNP के साथ कार्यरत हैं।

Latest stories