शुक्रवार, अप्रैल 19, 2024
होमटेकKrutrim AI ढेर सारी खूबियों के साथ जल्द कर सकता है बड़ा...

Krutrim AI ढेर सारी खूबियों के साथ जल्द कर सकता है बड़ा धमाका, क्या ChatGPT से कर पाएगा मुकाबला?

Date:

Related stories

Claude AI ने GPT 4 को धकेला नीचे, क्यों पीछे रह गये OpenAI ?

Claude AI : आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस यानि की AI का...

Artificial Intelligence: क्या है AI का भविष्य? 2030 तक कितनी नौकरियों पर इसका पड़ सकता है प्रभाव

Artificial Intelligence: आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) तकनीक काफी तेजी से...

AI Death Calculator: क्या सच में Artificial Intelligence बता सकता है मौत की तारीख?

AI Death Calculator: आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस यानि की AI ...

Krutrim AI: भारत समेत दुनियाभर में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस एआई का दबदबा चल रहा है। कई कंपनियां एआई क्षेत्र में अपनी पकड़ मजबूत करने की कोशिश में जुटी हुई है। इसी कड़ी में ओला इलेक्ट्रिक (Ola Electric) के सह-संस्थापक भाविश अग्रवाल (Bhavish Aggarwal) की स्टार्टअप कंपनी कृत्रिम एआई (Krutrim AI) उत्पाद को जल्द ही पेश कर सकती है। क्या ये एआई चैटजीपीटी (ChatGPT) से टक्कर ले पाएगा।

Krutrim AI की खास डिटेल

आपको बता दें कि कंपनी जल्द ही एआई चैटबॉट को लाने की तैयारी कर रही है। भाविश अग्रवाल इस एआई चैटबॉट के जरिए डिजिटल इंटरएक्टिव फील्ड में एक क्रान्ति लाना चाहते हैं।

Bhavish Aggarwal ने कृत्रिम एआई की जानकारी शेयर की

भाविश अग्रवाल ने एक्स (ट्विटर) पर अपनी पोस्ट के माध्यम से जानकारी शेयर करते हुए बताया है कि कृत्रिम कंपनी का पहला एआई चैटबॉट उत्पाद होगा। ये सूचना देने के साथ ही उन्होंने दो स्क्रीनशॉट भी साझा किए हैं। कृत्रिम का परीक्षण! अगले हफ्ते रिलीज हो रही है। अच्छा लग रहा है, हालांकि हम लॉन्च के बाद भी मॉडलों में सुधार करते रहेंगे।

कृत्रिम एआई की संभावित खूबियां

वहीं, कई मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि कृत्रिम एआई चैटबॉट 22 भारतीय भाषाओं को समझ पाएंगे। साथ ही 8 भाषाओं में कंटेंट लिख पाएंगे। रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि कृत्रिम एआई चैटबॉट सिर्फ बेसिक सवालों के जवाब दे पाएगा। साथ ही इसके प्रो वर्जन को भी तैयार किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि इसका एआई जेनरेटिव वॉयस फीचर के साथ आएंगे। ये एक तरह का फाउंडेशन मॉडल होगा।

क्या कृत्रिम एआई का मुकाबला ChatGPT से होगा?

इसके अलावा भाविश अग्रवाल द्वारा साझा की गई एक पोस्ट में नजर आता है कि कृत्रिम एआई चैटबॉट कभी-कभी गलत भी हो सकता है, इसलिए इसकी जानकारी को हमेशा वेरिफाई करें। ऐसे में ये देखना दिलचस्प होगा कि क्या ये लॉन्च होने के बाद चैटजीपीटी (ChatGPT) से मुकाबला कर पाएगा।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।   

Amit Mahajan
Amit Mahajanhttps://www.dnpindiahindi.in
अमित महाजन DNP India Hindi में कंटेंट राइटर की पोस्ट पर काम कर रहे हैं.अमित ने सिंघानिया विश्वविद्यालय से जर्नलिज्म में डिप्लोमा किया है. DNP India Hindi में वह राजनीति, बिजनेस, ऑटो और टेक बीट पर काफी समय से लिख रहे हैं. वह 3 सालों से कंटेंट की फील्ड में काम कर रहे हैं.

Latest stories