मंगलवार, मई 28, 2024
होमटेकApple iPhone यूजर्स को जल्द मिल सकती है गुड न्यूज! मिलेगा थर्ड...

Apple iPhone यूजर्स को जल्द मिल सकती है गुड न्यूज! मिलेगा थर्ड पार्टी ऐप स्टोर ऑप्शन

Date:

Related stories

Apple iPad Pro: इन अपग्रेडेड फीचर के साथ यूजर्स का दिल जीत लेगा एप्पल का ये मॉडल, जानें क्यों है खास

Apple iPad Pro: तकनीक के इस बढ़ते दौर में देश-दुनिया के विभिन्न हिस्सों में स्थित टेक कंपनियां हर दिन अपने उपकरणों को अपग्रेड करने में लगी हुई हैं।

Apple iPhone: अगर आप एप्पल (Apple) कंपनी का आईफोन इस्तेमाल करते हैं तो आपके लिए एक बड़ी खुशखबरी है। जल्द ही आईफोन यूजर्स की बड़ी चिंता खत्म होने वाली है। दरअसल ये तो आप जानते ही होंगे कि आईफोन यूजर्स किसी भी ऐप को डाउनलोड करने के लिए अभी तक सिर्फ एप्पल ऐप स्टोर पर निर्भर हैं। मगर आने वाले समय में ये निर्भरता समाप्त होने वाली है। जल्द ही एप्पल आईफोन (Apple iPhone) में थर्ड पार्टी ऐप की एंट्री होने वाली है। ये सुविधा यूरोपीय संघ के देशों में मिलेगी।

Apple iPhone में मिलेगा थर्ड पार्टी ऐप स्टोर ऑप्शन

रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि एप्पल ऐप स्टोर में थर्ड पार्टी ऐप स्टोर के ऑप्शन के तौर पर सेटऐप की एंट्री होने वाली है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, एप्पल कंपनी आईफोन में थर्ड पार्टी ऐप स्टोर को इसलिए ला रही है, क्योंकि एप्पल को यूरोपीय संघ यानी ईयू के डिजिटल मार्केट एक्ट यानी डीएमए का पालन करना है।

जानिए क्या हैं डीएमए कानून

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि डिजिटल मार्केट एक्ट यूरोपीय संघ का एक कानून है। ये कानून बिजनेस और कस्टमर्स के बीच निष्पक्षता लाने के लिए बनाया गया है। साथ ही ये नियम गूगल, अमेजॉन और ऐप्पल जैसी बड़ी कंपनियों को अपनी पावर का गलत इस्तेमाल और प्रतिस्पर्धा को लिमिटेड करने से रोकने के लिए लाया गया था।

यूजर्स को जल्द मिल सकती है ये सुविधा

सेटऐप एक सॉफ्टवेयर डेवलप कंपनी MacPaw द्वारा तैयार किया गया सब्सक्रिप्शन बेस्ड थर्ड पार्टी ऐप स्टोर है। ये कंपनी महीनेभर का चार्ज लेती हैं, फिर यूजर्स जितनी मर्जी ऐप्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। सेटऐप मेक ऐप स्टोर पर लगभग 800 रुपये खर्च करने होंगे। मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि सेटऐप अप्रैल में आईओएस बीटा वर्जन को एप्पल ऐप स्टोर पर लॉन्च कर सकता है।

यूरोप से बाहर नहीं मिलेगी ये सुविधा

उधर, बताया जा रहा है कि एप्पल नहीं चाहता है कि इस सुविधा को यूरोप से बाहर पेश किया जाए। एप्पल ने बताया है कि वर्तमान सिस्टम आईफोन को सुरक्षित रखता है। यूजर्स की निजता को सेफ रखता है। साथ ही बेहतर यूजर एक्सपीरियंस देता है। हालांकि, इसकी भारत में आने की कोई योजना नहीं है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा YouTube Channel ‘DNP INDIA’ को अभी subscribe करें। आप हमें FACEBOOKINSTAGRAM और TWITTER पर भी फॉलो कर सकते हैं।   

Amit Mahajan
Amit Mahajanhttps://www.dnpindiahindi.in
अमित महाजन DNP India Hindi में कंटेंट राइटर की पोस्ट पर काम कर रहे हैं.अमित ने सिंघानिया विश्वविद्यालय से जर्नलिज्म में डिप्लोमा किया है. DNP India Hindi में वह राजनीति, बिजनेस, ऑटो और टेक बीट पर काफी समय से लिख रहे हैं. वह 3 सालों से कंटेंट की फील्ड में काम कर रहे हैं.

Latest stories